Windows 10 के साथ में Ubuntu कैसे Install करें?[Dual Boot]

इस Tutorial मे हमने बताया है की Windows 10 के साथ मे Ubuntu कैसे Install करे? यह ट्यूटोरियल उन यूजर के लिए है जो Windows 10 के साथ मे Ubuntu Dual Boot कराना चाहते है

नमस्कार दोस्तों, आज हम इस ट्यूटोरियल ब्लॉग पोस्ट में विंडोज़ 10 के साथ में ubuntu का Dual Boot तैयार करने का पूरा प्रोसेस जानने वाले है |

Table of Contents

What is Ubuntu OS?

Windows 10 के साथ में Ubuntu कैसे Install करें?[Dual Boot]

वैसे तो ubuntu एक बहुत ही उपयोगी ऑपरेटिंग सिस्टम है और बहुत सारे लोग इसका उपयोग कर रहे हैं। लेकिन खास करके स्टूडेंट्स जो कि प्रोग्रामिंग सीख रहे है, उनके लिए ubuntu एक बहुत अच्छा उपयोगी विकल्प साबित होता है |

अब वो मैन ऑपरेटिंग सिस्टम के रूप में तो विंडोज़ का उपयोग करना चाहते है, और एजुकेशन के उद्देश्य से ubuntu का इन्स्टलैशन करना चाहते है | इसके लिए सबसे बेहतर ऑप्शन होता है कि आप ड्यूल बूट बनाकर तैयार कर लें और विंडोज़ के साथ ही सेकंड ऑपरेटिंग सिस्टम के रूप में ubuntu का इस्तेमाल करें |

फिर आप दोनों के बीच में अपनी जरूरत के हिसाब से स्विच कर सकते है |

यह ट्यूटोरियल उन System के लिए उपयुक्त है जो UEFI Secure Boot और MBR और GPT partitioning system के साथ pre-installed Windows 10 के साथ आती है |

तो चलो विंडोज़ के साथ ही ubuntu का ड्यूल बूट बनाना शुरू करते है |

Ubuntu को Windows 10 के साथ इंस्टॉल करने के सिम्पल निम्न स्टेप्स है(Dual Boot)

  • अपने विंडोज सिस्टम का बैकअप बनाएं [Optional]
  • Ubuntu डाउनलोड करें (या जो भी लिनक्स वितरण आप उपयोग करना चाहते हैं)
  • Ubuntu की एक लाइव यूएसबी/डिस्क बनाएं।
  • Ubuntu इंस्टॉलेशन के लिए अपनी डिस्क पर कुछ खाली जगह बनाएं।
  • Ubuntu लाइव यूएसबी से बूट करें।
  • विंडोज 10 के साथ Ubuntu Install करना।

डिस्क टाइप चेक करें GPT है या MBR

विंडोज़ के साथ में ubuntu का ड्यूल बूट तैयार करने के लिए सबसे पहले आपको ये जान लेना बहुत जरूरी होता है कि आपकी अभी जो विंडोज़ इंस्टॉल है वो आपकी हार्ड डिस्क के MBR पार्टिशन में इंस्टॉल है या GPT पार्टिशन के अंदर है |

ये स्टेप बहुत इम्पॉर्टन्ट है क्यूंकी जिस पार्टिशन स्टाइल में आपकी विंडोज़ इंस्टॉल है उसी पार्टिशन स्टाइल में आपको ubuntu ऑपरेटिंग सिस्टम को इंस्टॉल करना होगा |

हार्ड डिस्क का पार्टिशन स्टाइल चेक करने के लिए

  • This PC पर राइट क्लिक करके
  • क्लिक ऑन मैनेज
  • डिस्क मैनिज्मन्ट

अब जो हार्ड डिस्क ऐक्टिव है उसकि प्रॉपर्टीस में आना होगा

इसमे वॉल्यूम tab में आपको पार्टिशन स्टाइल : [आपका_पार्टिशन_स्टाइल] दिखाई देगा

अब इसी पार्टिशन स्टाइल में आपको ubuntu इंस्टॉल करना होगा |

MBR or GPT Partition स्टाइल की full form निम्न है –

GPT : GUID Partition Table
MBR : Master Boot Record

Ubuntu इंस्टॉल करने के लिए Bootable पेन ड्राइव बनाना

अब हम अपनी एक bootable पेन ड्राइव तैयार करेंगे |

Bootable पेन ड्राइव बनाने के लिए हमें तीन चीजों की जरूरत होगी

  1. UBUNTU Iso Image
  2. 8GB or greater USB Drive
  3. Universal USB Installer या Rufus

इनकी मदद से हम bootable पेन ड्राइव तैयार करेंगे

Ubuntu ऑपरेटिंग सिस्टम इंस्टॉल के लिए डाउनलोड की जाने वाले prerequisites

ubuntu iso image को हम ubuntu की ऑफिशियल वेबसाईट (https://ubuntu.com/download/desktop) से डाउनलोड कर सकते है | जहां पर आपको ubuntu का LTS वर्ज़न मिलेगा जोकी इसका लॉंग टर्म स्टैबल वर्ज़न है |

अब इस iso इमेज को bootable पेन ड्राइव में कन्वर्ट करने के लिए हमें universal usb installer की जरूरत होगी जो की www.pendrivelinux.com वेबसाईट से डाउनलोड कर सकते है |

इस वेबसाईट पर थोड़ा स्क्रॉल करके नीचे आने पर आपको Download UUI बटन पर क्लिक करके इसे इंस्टॉल कर सकते है | (universal-usb-installer.exe)

Universal USB Installer

अब Universal USB Installer को Run as administrator करने के बाद आपको निम्न स्टेप्स को फॉलो करना है –

आप जिस ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए bootable पेन ड्राइव बना रहे है वो सिलेक्ट करें, हम यहाँ ubuntu को सिलेक्ट करेंगे

Universal USB Installer Guide 2022

आपको अपनी डाउनलोड की हुई ubuntu iso image को सिलेक्ट करना है

तीसरे स्टेप में आपको अपनी यूएसबी ड्राइव को सिलेक्ट करना है

और सिम्पल क्रीऐट पर क्लिक करना है

अब 4-5 मिनट में आपकी bootable पेन ड्राइव तैयार हो जाएगी |

Ubuntu इन्स्टलैशन डिस्क गाइड

अब यहाँ हम एक और मैन बात का ध्यान रखेंगे की अपना ubuntu को विंडोज़ वाली पार्टिशन में इंस्टॉल नहीं करना है |

इसके लिए हम एक नया पार्टिशन बनाएंगे जो बिल्कुल खाली होगा या पहले से बने पार्टिशन का उपयोग करना चाहते है तो उस पार्टिशन ड्राइव का बैकअप लेकर रख ले |

क्युकी वो ड्राइव फॉर्मैट हो जाएगी और यह es4 फॉर्मैट में फॉर्मैट होती है जो कि विंडोज़ रिकवरी के दौरान भी रिकवर नहीं होती है |

Ubuntu इन्स्टलैशन के लिए सिस्टम बूटिंग( बूटेबल पेन ड्राइव के द्वारा )

अब हमने हमारे Booting Process तक जाने से पहले की सारी तैयारीकर ली है, अब booting की प्रक्रिया शुरू करते है |
हमने यहाँ जो bootable पेन ड्राइव तैयार की है उसकि Help से सिस्टम को बूट करवाएंगे | इसके लिए आपको सिस्टम को रिस्टार्ट करना होगा और F12 बटन को 2-3 बार दबाना होगा, जिससे Temp Boot Menu / BIOS UEFI Setup Open हो जाएगा |

आपके कंप्युटर के मॉडल और ब्रांड के हिसाब से F12 की जगह पर अलग अलग hotkeys सेट की हो सकती है जिससे गूगल पर सर्च करकर आप पता कर सकते है |

अब आपको थोड़ा ध्यान से इस स्टेप को फॉलो करना है –

How to Open Windows Boot Manager.

अगर आपका हार्ड ड्राइव पार्टिशन का स्टाइल MBR है | तो आपको सिम्पल पेन ड्राइव के नाम [Pen_Drive_Name] पर क्लिक करकर इंटर करना है |

और अगर आपका पार्टिशन स्टाइल GPT है तो UEFI OS ([Pen_Drive_Name]) पर क्लिक करके इंटर करना है |

और सिस्टम को बूट करवाना होगा |

एक बात और की अगर आपका पार्टिशन स्टाइल GPT में है तो आपका सिस्टम का सिक्युर बूट इनैबल हो सकता है जिसे आपको डिसैबल करना होगा |

BIOS > Settings > Security > Secure Boot > Enabled/Disabled

अगर हार्ड डिस्क का पार्टिशन स्टाइल GPT में है

UEFI मोड में बूट करवाने के बाद आपको नीचे इमेज के जैसे इंटरफेस दिखाई देगा

इसके बाद आपको पहले ऑप्शन पर क्लिक करके ubuntu इन्स्टलैशन को स्टार्ट करना है | अगर आप इस डिस्क स्कैनिंग प्रोसेस को स्किप करना चाहते है तो CTRL+C दबा कर ऐसा कर सकते है |

अब ubuntu का लाइव मोड शुरू हो जाता है जिसमे आपको दो ऑप्शन दिखाई देते है –

Try Ubuntu : आपका सिस्टम ubuntu के साथ compatible है या नहीं आप इसके साथ चेक कर सकते है

Install Ubuntu : इसके साथ आप ubuntu ऑपरेटिंग सिस्टम को पूर्ण रूप से इंस्टॉल कर सकते है |

Install and Try Ubuntu Option During Installation.
  • अब आपका ubuntu तो इंस्टॉल हो चुका है लेकिन आपको इसको अपने हिसाब से थोड़ा customize करना है |
  • Keyboard Layout : आप अपना कीबोर्ड लेआउट सिलेक्ट कर ले जो डिफ़ॉल्ट रूप में English US होता है , मेरे अनुसार तो आप इसे ही रहने दें |
  • Updates and other software : नॉर्मल इन्स्टलैशन पर टिक मार्क करे और आपके कंप्युटर में इंटरनेट है तो आप इन्स्टलैशन के साथ ही ubuntu अपडेट और अन्य थर्ड पार्टी सॉफ्टवेयर इंस्टॉल डाउनलोड कर सकते है |
  • Installation type :

इस स्टेप में अगर आपके कंप्युटर में पहले से कोई OS इंस्टाल है तो यह डिटेक्ट कर लेगा | और यहाँ पर आपको 3 ऑप्शन दिखाई देंगे –

  1. Install UBUNTU alongside Windows Boot Manager : यह विंडोज़ वाले पार्टिशन में ही ubuntu इंस्टॉल कर देगा, हमें ऐसा नहीं करना है क्यूंकी हम ubuntu को हमने जो पार्टिशन तैयार किया है उसमे इंस्टॉल करेंगे |
  2. Erase disk and install UBUNTU
  3. Something else : हम इस something else वाले ऑप्शन के साथ जाएंगे और आगे बढ़ेंगे |
Ubuntu Installation Type.

अब इस वाले स्टेप में हम डिस्क सिलेक्शन को कम्प्लीट करेंगे

यहाँ पर ऊपर वाले 4 ऑप्शन को कुछ नहीं कहना है क्यूंकी ये विंडोज़ के है अन्यथा विंडोज़ फॉर्मैट हो सकती है | अब नीचे आने पर ntfs वाला हमारा बनाया हुआ D पार्टिशन दिखाई देगा | इसको सिलेक्ट करना है और माइनस ( – ) पर क्लिक करके इसे डिलीट कर देंगे | अब इस पार्टिशन के नाम की जगह पर free space लिखा हुआ दिखाई देने लगेगा |

  • Free Space को सिलेक्ट कर प्लस (+) पर क्लिक करे जिससे एक नया पार्टिशन हम ubuntu के अनुसार तैयार करेंगे –
  1. साइज़ : 500 MB
  2. टाइप : primary
  3. लोकैशन : baggining of the space
  4. use as : EFI System Partition
Ubuntu Installation Type for MBR and GPT.
  • दोबारा free space को सिलेक्ट कर एक और पार्टिशन तैयार करेंगे –

साइज़ : लगभग 22 GB (इस ड्राइव में हमें 8 GB तक खाली छोड़ कर बनाना है)

  1. टाइप : primary
  2. लोकैशन : beginning of the space
  3. use as : ext4 journalating file system
  4. Mount Space : / ( सलास ) को सिलेक्ट करना है
  • अब बाकी के 8 GB के free space को सिलेक्ट करना है और प्लस पर क्लिक करना है –
  1. साइज़ : लगभग 8 GB के करीब होगा
  2. टाइप : primary
  3. लोकैशन : baggining of the space
  4. use as : swap area सिलेक्ट करना है और पार्टिशन तैयार कर देना है |

Ubuntu का फाइनल इन्स्टलैशन

सामान्य रूप से ext4 वाले पार्टिशन को सिलेक्ट कर Install Now पर क्लिक करना है

अगर हार्ड डिस्क का पार्टिशन स्टाइल MBR में है

हमें डिस्क D को सिलेक्ट कर माइनस ( – ) पर क्लिक करना है और free space बना लेना है |

  • अब free space वाली डिस्क को सिलेक्ट कर प्लस बटन पर क्लिक कर नया पार्टिशन तैयार कर लेना है –
Install Ubuntu in MBR.
  1. साइज़ : लगभग 8 GB
  2. स्टाइल : logical
  3. लोकैशन : end of the space
  4. use as : swap area
  • अब प्राइमेरी इन्स्टलैशन के लिए पार्टिशन तैयार करना होगा –
  1. टाइप : primary
  2. लोकैशन : beginning of the space
  3. use as : ext4 journalating file system
  4. Mount Space : / ( सलास ) को सिलेक्ट करना है

Ubuntu का फाइनल इन्स्टलैशन

सिम्पल ext4 वाले पार्टिशन को सिलेक्ट कर इंस्टाल नाउ पर क्लिक करना है

इसके आगे का प्रोसेस GPT & MBR दोनों डिस्क पार्टिशन स्टाइल में एक जैसा रहता है |

अब ubuntu इन्स्टलैशन custmizaton के सिम्पल स्टेप्स आपको फॉलो करने है –

Install Ubuntu Location Option
  • लोकैशन : जहाँ के आप रहने वाले हो. (इंडिया)
Install Ubuntu with entered computer details
  • यूजर इनफार्मेशन : नाम, कंप्युटर का नाम, यूसर्नेम, पासवर्ड, लॉगिन ऑटोमैटिक्ली / हर बार पासवर्ड मांगना है लॉगिन के लिए

अब continue पर क्लिक कर इंस्टॉल प्रोसेस शुरू कर देना है और files आपकी पेन ड्राइव से हार्ड डिस्क में कॉपी होना शुरू हो जाती है, ये प्रोसेस 8-10 मिनट का टाइम ले लेती है जोकि आपके सिस्टम की परफॉरमेंस पर निर्भर करता है

Ubuntu इंस्टॉल हो जाने के बाद कंप्युटर को रिस्टार्ट करना

Ubuntu GNU Grub Boot Menu.

इन्स्टलैशन कम्प्लीट हो जाने के बाद आपको कंप्युटर को रिस्टार्ट करने के लिए एक popup दिखाई देगा | अब इस popup पर क्लिक कर कंप्युटर को रिस्टार्ट कर लेना है |

जब कंप्युटर फिर से ऑन हो जाएगा तब एक विंडो ओपन होगी जिसमे आपको पूछा जाएगा की आप ubuntu को चलाना चाहते है या विंडोज़ को |
आप बारी बारी से दोनों को चला करके चेक कर ले कि दोनों सही से काम कर रहे है या नहीं |

UBUNTU : ubuntu run करने के लिए इसे सिलेक्ट करें |

WINDOWS : विंडोज़ run करने के लिए Windows Boot Manager को सिलेक्ट कर लें |

अगर ये दोनों सही से run हो जा रहे है तो समझ लीजिए कि हमने विंडोज़ के साथ ubuntu का ड्यूल बूट तैयार कर लिया है |

ड्यूल बूट से रिलेटेड सारे सवाल मेने इस ब्लॉग पोस्ट में कवर कर लिए है और आपके मन में ड्यूल बूट से संबंधित कोई सवाल है तो आप मुझे नीचे कमेन्ट बॉक्स में पूछ सकते है |

FAQs for windows 10 and Ubuntu dual boot

Ubuntu इन्स्टलैशन डिस्क की क्या गाइड हैं?

अब यहाँ हम एक और मैन बात का ध्यान रखेंगे की अपना ubuntu को विंडोज़ वाली पार्टिशन में इंस्टॉल नहीं करना है | इसके लिए हम एक नया पार्टिशन बनाएंगे जो बिल्कुल खाली होगा या पहले से बने पार्टिशन का उपयोग करना चाहते है तो उस पार्टिशन ड्राइव का बैकअप लेकर रख ले | क्युकी वो ड्राइव फॉर्मैट हो जाएगी और यह es4 फॉर्मैट में फॉर्मैट होती है जो कि विंडोज़ रिकवरी के दौरान भी रिकवर नहीं होती है |

Ubuntu को Windows 10 के साथ इंस्टॉल करने के सिम्पल स्टेप्स क्या हैं?

अपने विंडोज सिस्टम का बैकअप बनाएं [Optional]
Ubuntu डाउनलोड करें (या जो भी लिनक्स वितरण आप उपयोग करना चाहते हैं)
Ubuntu की एक लाइव यूएसबी/डिस्क बनाएं।
Ubuntu इंस्टॉलेशन के लिए अपनी डिस्क पर कुछ खाली जगह बनाएं।
Ubuntu लाइव यूएसबी से बूट करें।
Windows 10 के साथ Ubuntu Install करना।

MBR की Full Form क्या है ?

MBR : Master Boot Record

GPT की Full Form क्या है ?

GPT : GUID Partition Table

धन्यवाद

Share your love
Default image
Lamba Pankaj
Articles: 10

Leave a Reply

Your email address will not be published.

I'm not a robot *Captcha loading...

5 Movies that Programmers Should Watch Best Search Engine for Developers – You.com 06 Free Website Hosting Providers for Developers You should Know Learn Programming while playing games learn about Operating systems and OS Structure Design
Secured By miniOrange